राष्ट्रीय

आखिर क्यो कोरोना की पहली (1) खेप अहमदाबाद में गयी ?

आखिर क्यो कोरोना की पहली खेप अहमदाबाद में गयी ?

अहमदाबाद के अलावा किस राज्ये में सबसे पहले लगेगी कोरोना वैक्सीन ?

कोरोना
Source Social Media

कोरोना वायरस महामारी को मात देने के लिए कैंद्र सरकार ने 16 जनवरी से  देश भर में टीकाकरण के अभियान को हरी झंड़ी दे दी हैं.इसके मद्देनजर ‘कोविशील्ड’  वैक्सीन की पहली खेप मंगलवार सुबह ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ से पुणे हवाई अड्डे तक पहुंची।

कोरोना
source social media

विमान में वैक्सीन भरकर पुणे इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंची.साथ ही अपको बता दे की  पुणे एयरपोर्ट से वैक्सीन का एयर ट्रांसपोर्ट संभालने वाली कंपनी SB LOGISTIC के एमडी संदीप भोसले ने बताया की कुल आठ फ्लाइट्स कोविशील्ड वैक्सीन को पुणे इंटरनेशनल एयरपोर्ट से देश के 13 स्थानों पर लेकर जाएगी।

कोरोना
source social media

सीरम इंस्टीट्यूट के टीके की सबसे पहली खेप सुबह 10 बजकर 45 मिनट पर अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल एयरपोर्ट पर पहुंची।जिससे लेकर बहुत से लोगो के मन में सवाल उठ रहा हैं की आखिर क्यो कोरोना वैक्सीन की पहली खेप अहमदाबाद में ही क्यों गई,बाकी और राज्यो में क्यो नही गई?

जबकि सिर्फ अहमदाबाद (गुजरात) में ही कोरोना संक्रमण के मामले सबसे ज्यादा नही पाए गए थे, बल्कि अन्य राज्यों में भी कोरोना के मामले गुजरात से कई अधिक पाए थे। इसके बावजूद भी कोरोना की पहली डोज गुजरात में ही गई?यह सवाल सबके मन में उठ रहा है।

इसे भी पढ़े – सरकार के अंगों कार्यपालिका और न्यायपालिका में फिर दिखा टकराव

तो आपको बता दें की गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने टीकाकरण से संबंधित सभी तैयारियां पूरी कर ली थी, जिस कारण गुजरात में कोविड-19 टीकाकरण अभियान 25,000 बूथों पर शुरू होगया और उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी 16 जनवरी को गुजरात के 287 बूथों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़ेंगे। इस दौरान अहमदाबाद और राजकोट में दो स्थानों पर डॉक्टरों और टीका लेने वालों से बातचीत करेंगे।

गुजरात में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया की बात करे तोगुजरात में वैक्सीन सेन्टर किस तरह तैयार किए जाएंगे। वैक्सीनेटर सेन्टर पर मुख्यत: तीन कक्षों की व्यवस्था की गई है, जिसमें प्रतिक्षा कक्ष, एक वैक्सीन रूम और एक ऑब्जर्वेशन रूम होगा। इसके साथ ही राज्य सरकार ने कोल्ड चैन ट्रांसपोर्टेशन की व्यवस्था की है. इसके अलावा वैक्सीन की व्यवस्था के लिए छह रिजनल डिपो भी तैयार किए गए हैं।

निशांत कुमार

मीडिया दरबार

 

शेयर करें
COVID-19 CASES