धार्मिक

चार धाम यात्रा का बना रहे है प्लान तो पहले सुन ले उत्तराखंड हाई कोर्ट का ये ऐलान !!

चार धाम यात्रा का बना रहे है प्लान तो पहले सुन ले उत्तराखंड हाई कोर्ट का ये ऐलान !!

 

रिपोर्ट- रुचि पाण्डें, मीडिया दरबार

उत्तराखंड हाई कोर्ट ने चार धाम यात्रा से जुड़ा बड़ा ऐलान किया है। हाई कोर्ट ने कहा कि सीमित संख्या के साथ भी श्रध्दालुओं को चार धाम यात्रा की अनुमति नहीं दी जाऐगी। कुछ दिन पहले ही उत्तराखंड कैबिनेट ने चार धाम यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों को सीमित संख्या के साथ यात्रा की अनुमति दे दी थी। लेकिन कोर्ट ने अब उस फैसले में उलट फेर करते हुए चार धाम तीर्थ स्थलों की लाइव स्ट्रीमिंग का आदेश दिया है। इस मामले में अगली सुनवाई 7 जुलाई को होगी। दो दिन पहले भी हाई कोर्ट ने उत्तराखंड सरकार के फैसले को लेकर कड़ी फटकार लगाई थी।

बतां दें कि उत्तराखंड सरकार ने 1 जुलाई से चारधाम यात्रा को शुरु करने का फैसला लिया था। राज्य सरकार ने केवल चमोली जिले के लोगों को रुद्रप्रयाग, बदरीनाथ, केदारनाथ और उत्तरकाशी के लोगों को दर्शन करने की अनुमति दी थी। बीते दिनों इसके लिए कई जगहों पर वैक्सीनेशन की प्रक्रिया भी शुरु की गई थी। उत्तरकाशी के गंगोत्री और यमुनोत्री में 10000, और रुद्रप्रयाग के केदारनाथ धाम 5000, चार धाम यात्रा के लिए वैक्सीन पहुँचाई जा रही थी। जब राज्य सरकार ने 1 जुलाई से चारधाम यात्रा की अनमुमति दे दी थी तो हाई कोर्ट ने उसपर एक बार फिर से विचार करने के लिए कहा था। हाई कोर्ट ने अमरनाथ यात्रा का उदाहरण देते हुए कहा था कि यात्रा को अभी रद्द करना ही अच्छा है।

बीते 20 जून को उत्तराखंड सरकार ने घोषणा की थी वो 4 धाम यात्रा को शरु करे। उत्तराखंड के बाकी हिस्सों के लोगों के लिए 11 जुलाई से 4 मंदिरों की यात्रा की अनुमति भी दी गई थी।

यहाँ देखे विडियो 

 

 

 

 

 

शेयर करें
COVID-19 CASES