पर्यटन

धरती में रहकर देखना है स्वर्ग……… तो चले आइये यहाँ|

धरती की जन्नत……….कश्मीर 

कश्मीर नाम सुनते ही मन में कई ख़ूबसूरत वादियों और बर्फ से ढके पहाड़ों की कल्पनाये मन को उत्सुकता से भर देता है| शायद ही कोई घुम्मकड ऐसा होगा जो कश्मीर ना जाना चाहता होगा| कश्मीर की खूबसूरती की वजह से ही इसे धरती और भारत का स्वर्ग कहा जाता हैं| यहाँ बैंगनी फूलों से लदे केसर के खेतो का एक अलग ही आकर्षण है | तो आज हम आपको कश्मीर की वादियों से रुबरू कराएगे |

कश्मीर जाने के लिए किसी भी बहाने की जरूरत नही है। धरती पर जन्नत देखनी है तो कश्मीर, अप्रैल मई के अंत तक बर्फ देखनी है तो कश्मीर, झीलों के पानी पर तैरते हाउसबोटों और शिकारों में बैठ कर चांदनी रात में चांद को निहराना है तो भी कश्मीर। और न जाने कितने कारण हैं जिनकी गिनती करते करते आप थक जाएंगे जो कश्मीर जाने की एक वजह हो सकती हैं। माना कि वर्ष 1989 के मध्य में शुरू हुए पाक प्रायोजित आतंकवाद ने कश्मीर को पर्यटनस्थलों की सूची से कभी दूर कर दिया था पर आंकड़े बताते हैं कि बमों के धमाकों और गोलियों की बरसात के बीच भी कश्मीर आने वालों के कदम कभी रूके नहीं थे। आखिर रूकते भी कैसे क्योंकि कश्मीर में आतंकवाद का जितना डर आज है, उससे कहीं ज्यादा तो देश के बड़े बड़े शहरों में है| अब इक्का दुक्का घटना को नजर अंदाज किया जाने लगा है|

घुमने की जगह:- कश्मीर के लोकप्रिय पर्यटक स्थलों में से एक श्रीनगर को प्रसिद्ध रूप से ‘हेवन ऑन अर्थ’ के रूप में जाना जाता है। जम्मू और कश्मीर की राजधानी श्रीनगर, झेलम नदी के तट पर स्थित प्राकृतिक स्थलों का अनूठा दृश्य पेश करता है। जो पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बने हुए है। और इसके साथ साथ बहुत से ऐसी जगह है जहां आप जा सकते हैं जैसे गुलमर्ग, पहलगाम, सोनमर्ग, पटनिटॉप|

घुमने का सही समय: यदि आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ कश्मीर घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे कश्मीर घूमने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से जून तक का समय होता है। कश्मीर की यात्रा के लिए ग्रीष्मकाल का मौसम सुखद मौसम होता है जब आप यहाँ चिलचिलाती गर्मी में बर्फ के बीच रोमांचक समय व्यतीत कर सकते है|

कश्मीर का प्रसिद्ध स्थानीय भोजन: कश्मीर में दो तरह का भोजन मुख्य है एक कश्मीरी पंडितों का भोजन है, जो बिना प्याज या लहसुन के पकाया जाता है और काफी हद तक शाकाहारी होता है। दूसरा मुस्लिम घरों में लोकप्रिय है कश्मीरी व्यंजन है, जिसमें तिब्बत और विदेशी प्रभाव देखा जाता है। कश्मीरी पुलाव, कश्मीरी ग्रेवी, मोमोज और मटन, चिकन देशभर में काफी प्रसिद्ध हैं। मटन की 30 से अधिक रेसिपीज कश्मीर घाटी में पकाई जाती हैं। पानी के बाद यहां सबसे ज्यादा पीने वाला ड्रिंक चाय है। कश्मीरी भी मिठाइयों के बहुत शौकीन होते |

कहा रुक सकते है:  आप कश्मीर शहर और इसके पर्यटक स्थल घूमने जाने का प्लान बना रहे है और कश्मीर में किसी होटल की तलाश में हैं तो हम आपको बता दें की इस खूबसूरत शहर कश्मीर में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जायेंगे। जिनकी आप आपनी सुविधानुसार चुनाव कर सकते हैं |

कैसे पहुच सकते हैं  आप सड़क, रेल और हवाई मार्ग में से किसी का भी चुनाव करके कश्मीर पहुंच सकते है। अगर आप फ्लाइट से यात्रा करके सोनमर्ग जाना चाहते है तो हम आपको बता दे कश्मीर का निकटतम हवाई, श्रीनगर हवाई अड्डा है जो कश्मीर से 15 किमी की दूरी पर स्थित है, यदि आप बस या सड़क मार्ग से यात्रा करके कश्मीर जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे कश्मीर के लिए कई निजी और राज्य सरकार द्वारा संचालित बस सेवाएं उपलब्ध हैं। कश्मीर राज्य राज्य और निजी बसों के नेटवर्क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है| यदि आपने कश्मीर जाने के लिए रेल मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे कश्मीर का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन जम्मू तवी रेलवे स्टेशन है। जो जम्मू कश्मीर के साथ-साथ भारत के कुछ प्रमुख शहरों भी रेल मार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है।

खरीदारी: अगर आप कश्मीर गये और यहाँ की मार्किट में नहीं गये तो आपने बहुत अच्छा मौका छोड  दिया है| इसीलिए वहां की मार्किट में जरुर जाए| यहाँ की कुछ प्रमुख बाजार है जैसे: कश्मीर स्टोर गोल मार्किट, कश्मीर आई डी पी मार्किट, कश्मीर ट्रेवल बाजार |

नेहा परिहार

मीडिया दरबार

शेयर करें
COVID-19 CASES