विचार

पाकिस्तान के मुल्तान में हिन्दू परिवार के 5 सदस्यों की हत्या !

पाकिस्तान में हिन्दुओं का ऐसा हैं हाल

पाकिस्तान में रहेने वाले हिन्दू अल्पसंख्यकों को किस तरह से प्रताड़ित किया जाता है और वहा रह रहे हिन्दुओं के साथ किस तरह से अत्याचार किया जाता है|

ये जानने के लिए आपको हमारी ये रिपोर्ट अंत तक जरूर पढ़नी चाहिए पाकिस्तान में रह रहे हिन्दू समुदाय के लोगों का वहा क्या हाल हैं इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि पाकिस्तान के मुल्तान में एक हिन्दू परिवार के पांच सदस्यों की गला काटकर हत्या कर दी गई है।

इसे भी पढ़े:-इमरान खान सरकार का क्या होगा हाल क्या पाकिस्तान में बदलेगी सरकार ?

जानकारी के मुताबिक ये दिल दहलाने वाली घटना मुल्तान के रहीम यार खान शहर से कुछ किलोमीटर दूर अबुधाबी कोलोनो की हैं जहा रहने वाले एक हिन्दू परिवार के पांच सदस्यों की किसी धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई इन पांचो सदस्यों की लाश बेहद संदिग्ध स्थिति में पाई गई जिसके बाद से ये खबर में आया|

इस घटना के बाद पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दू समुदाय के लोगों में डर का माहौल हैं| ज्यादा जानकारी के मुताबिक जिस परिवार के लोगों की हत्या की गई हैं वो रामचंद मेघवाल नाम के एक व्यक्ति का परिवार था, जो अबुधाबी कालोनी में एक अरसे से रहते थे और यही दर्जी  का काम करते थे|

पाकिस्तान में हिन्दू समुदाय के साथ अक्सर होते हैं ऐसे वारदात

पाकिस्तान
Image Source-Social Media

आस पास रहने वाले लोगो के मुताबिक रामचंद मेघवाल की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थे वे वयवहार से बेहद शांतिप्रिय व्यक्ति थे| हालांकि ये यहाँ  इस तरह की कोई पहली घटना नहीं हैं,

इससे पहले भी अक्सर मुल्तान में हिन्दुओं को लगतार निशाना बानाया जाता रहा हैं आये दिन मुल्तान में नाबालिक हिन्दू बच्चियों का अपहरण कर उन्हें जबरन धर्मपरिवर्तन के लिए मजबूर किये जाने की खबरे भी सामने आती रहती हैं|

लेकिन अब इस हत्याकांड के बाद एक बार फिर पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति सवालों के घेरे में हैं सबसे पहला सवाल ये उठता है कि उस देश के प्रधानमंत्री से इंसाफ कि क्या ही उम्मीद करना जिसके लिए धर्म निरपेक्षता जैसे शब्द कोई मायने ही नहीं रखते हो।

यहाँ रह रहे हिन्दुओं की स्थिति का अंदाज़ा आपको इसी बात से लग जाएगा की आज़ादी के समय यहाँ  रहने वाले हिन्दुओं की आवादी 16 प्रतिशत थी जो अब 2 प्रतिशत से भी कम रह गई हैं ऐसे में सवाल ये उठता हैं की आखिर पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दू आखिर गए कहा|

हिन्दू धार्मिक स्थलों पर आये दिन होते हैं हमले

पाकिस्तान
Image Source-Social Media

यहाँ आये दिन हिन्दू धार्मिक स्थलों को पाकिस्तान के  कट्टरपंथी मुस्लिमान निशाना बनाते रहते हैं आये दिन मंदिरों को तोड़े जाने की खबरे सामने आती हैं लेकिन इन घटनाओं पर करवाई करना और हिन्दुओं को सुरक्षा मुहैया करना तो दूर पाकिस्तान की सरकारे इस ओर ध्यान तक नहीं देती|

पाकिस्तान में हिन्दू समुदाय पर होने वाले अत्यचारों की अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने भी कई बार निंदा की हैं लेकिन इसका भी पाकिस्तान पर कभी कोई असर नहीं हुआ|

CAA और NRC कानून लागू किये जाने की हैं जरुरत

पाकिस्तान
Image Source-Social Media

इस मामले के बाद एक बार फिर साबित हो गया की मोदी सरकार द्वारा लाये गये CAA और NRC कानून की आज हिन्दू समुदाय को कितनी जरुरत हैं|

इसे भी पढ़े:-NIA का बड़ा खुलासा: पाकिस्तान के भारत विरोधी एजेंडे की खुली पोल 

आज हमारे इन पड़ोसी देशों के ये डरे हुए हिन्दू अगर हिंदुस्तान की ओर देखते हैं और उन्हें यहाँ भी कोई उम्मीद नहीं दिखती तो ऐसे में आखिर वो कहा जाएँगे|

भारत सरकार को जल्द से जल्द  इन देशों  में रह रहे इन हिन्दुओं को सुरक्षित भारत लाने की वयवस्था करनी चाहिये और जो लोग CAA और NRC का विरोध करते है आ रहे थे शायद इस घटना के बाद उन्हें इस कानून की अहमियत और जरुरत दोनों समझ आ जाये|

रिपोर्ट – पूजा पाण्डेय 

मीडिया दरबार 

 

 

 

शेयर करें
COVID-19 CASES