मनोरंजन

हरिहरन साहब हैप्पी बर्थडे

हरिहरन साहब हैप्पी बर्थडे

 तू ही रे… तू ही रे…

आज उस सिंगर का जन्मदिन है, जिन्होंने अपने म्यूजिक से सबका दिल जीत रखा है| जिन्होंने पुरे देश में अलग अलग भाषाओ में गाने गा कर, और अपना संगीत देकर एक अलग ही छाप छोड़ी हुई है| जो एक जाने माने ग़ज़ल सिंगर भी है. जी हाँ मैं बात कर रहा हु सिंगर हरी हरन की| आज उनके जन्मदिन के दिन हम उनके बारे में बात करेंगे, और साथ सुनेंगे उनके कुछ लोकप्रिय गाने|

हरिहरन मुंबई में एक तमिल भ्रमिन अइयर फॅमिली में बड़े हुए| और उनके पास बैचलर इन साइंस एंड लॉ की डिग्री भी है| जाने माने कार्नाटिक वोकलिस्ट , श्रीमती अलामेरू एंड लेट H.S.A  मणि के बेटे हरिहरन ने अपने परिवार का म्यूजिक टैलेंट को आगे बढाया| श्रीमती अलामेरू उनकी पहली गुरु रही|

यही से उन्होंने कार्नाटिक म्यूजिक सीखा| टीनएज के टाइम मेहँदी हस्सन से इन्सपाएर होकर हरिहरन को ग़ज़लों का शोक हुआ| और उन्होंने हिन्दिस्तानी म्यूजिक की ट्रेनिंग , उस्ताद घुलाम मुस्तफा खान से लेनी शुरू कर दी| वेह रोज़ 13 घंटे सिंगिंग की प्रैक्टिस किया करते थे|

हरिहरन तमिल फिल्म इंडस्ट्री में 1992 आये , उन्हें इन्त्रुदुस किआ था , A.R रहमान ने , जो उस वक़्त एज म्यूजिक डायरेक्टर डेब्यू करने जा रहे थे| मणिरत्नम की फिल्म रोजा के एक गाने क लिए जिसका नाम था “थामिज्हा थामिज्हा”| इसके बाद हरिहरन की जर्नी स्टार्ट हो गयी और उन्होंने 500 से भी ज्यादा तमिल सोंग्स और 200 से भी ज्यादा हिंदी सोंग्स गाये| हरिहरन एक बेहतरीन ग़ज़ल सिंगर भी है| एज़ ग़ज़ल सिंगर उन्होंने 30 से भी ज्यादा एल्बम रिलीज़ करी है|

सन 1996 हरिहरन के लिए सबसे बड़ा और सबसे लकी साल साबित हुआ| उन्होंने मुंबई बेस्ड कंपोजर और सिंगर लेस्ले लेविस के साथ मिलकर एक बैंड बनाया जिसक नाम रहा “कोलोनियल कोउसिंस”| बैंड के साथ उन्होंने बोहत से प्राइवेट म्यूजिक एल्बम रिलीज़ करे जिसमे में से कई गाने तमिल और हिंदी फिल्मों में भी हमे सुनने को मिले|

 

2010 , कामनवेल्थ गेम्स ओपेनिंग सेरेमनी में इहरण ने स्वगाथं गीत गया था| 2004 में उन्हें गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया की तरफ से पद्मा श्री से सम्मानित इया गया| हरिहरन “रॉयल स्टैग बैरल सेलेक्ट MTV unplugged” का भी हिस्सा रह चुके है जो ओं आर हुआ , दिसम्बर 2015 में|

रिपोर्ट – गगन कुंदु

मीडिया दरबार

 

शेयर करें
COVID-19 CASES