स्वास्थ्य

धूम्रपान करने वाला कोई व्यक्ति कैसे खरीद सकता है हेल्थ पॉलिसी?

धूम्रपान करने वाले भी खरीद सकते हैं हेल्थ पॉलिसी पर्सनल फाइनेंस में सबसे भ्रामक बात यह है कि धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को हेल्थ पॉलिसी नहीं मिल सकती. वास्तव में ऐसा नहीं है. अगर आप धूम्रपान करते हैं, तब भी हेल्थ पॉलिसी खरीद सकते हैं.
निकोटिन लेने वालों को भी हेल्थ पॉलिसी

आपको बस यह ध्यान रखने की जरूरत है कि अगर आप धूम्रपान करते हैं तो आपको हेल्थ पॉलिसी के लिए अधिक प्रीमियम चुकाने के लिए तैयार रहना होगा. किसी भी फॉर्म में निकोटिन लेने वाले व्यक्ति को हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी अलग कैटेगरी में रखती है. बीमा कंपनी नियमित रूप से धूम्रपान करने वाले लोगों को मेडिकल टेस्ट के लिए इंसिस्ट करती है.

दिन में कितनी बार धूम्रपान?

मेडिकल टेस्ट में आपके शरीर में मौजूद निकोटिन की मात्रा का पता लग जाता है. वास्तव में आप जितना धूम्रपान करते हैं, आपके शरीर में उतनी ज्यादा अवधि तक निकोटिन रहती है. इस वजह से हेल्थ पॉलिसी खरीदते वक्त बीमा कंपनी आपके धूम्रपान की तीव्रता के बारे में पूछती हैं. मतलब आप रोज कितने सिगरेट पीते हैं?

लाइफ स्टाइल में बदलाव की दें जानकारी

अगर आप धूम्रपान करते हैं और आपने हेल्थ पॉलिसी खरीदी है तो लाइफ स्टाइल में होने वाले किसी बदलाव की सूचना आपको तुरंत बीमा कंपनी को देनी चाहिए. इससे किसी बीमारी के समय बीमा के दावे की प्रक्रिया आसान हो जाएगी. लाइफ स्टाइल में बदलाव का मतलब सिगरेट कम करना/बढ़ाना या किसी बीमारी की जानकारी आदि हो सकते हैं.

किन स्थितियों में मना करती है बीमा कंपनी?

आपके स्वास्थ्य की मौजूदा स्थिति के हिसाब से बीमा कंपनी आपके हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम की गणना करती है. इसके बाद आपके मौजूदा बीमारी की तीव्रता देखी जाती है. अगर आप टाइप-2 डायबिटीज से पीड़ित हैं तो आपको बीमा कंपनी हेल्थ पॉलिसी बेचने से मना कर सकती है.

धूम्रपान नहीं तो मामूली औपचारिकता

अगर आप धूम्रपान नहीं करते और पहले से कोई बीमारी भी नहीं है तो आप बहुत आसानी से कम दस्तावेज के साथ ही हेल्थ पॉलिसी खरीद सकते हैं. अगर आप रोजाना दस से अधिक सिगरेट पीते हैं तो आपको काफी प्रीमियम चुकाना पड़ सकता है. अगर आप रोजाना 2-4 पैकेट सिगरेट पीते हैं तो आपका प्रस्ताव खारिज किया जा सकता है.
स्वस्थ हैं तो धूम्रपान से दिक्कत नहीं
अगर आप चेन स्मोकर हैं तो आपका प्रस्ताव सिरे से ख़ारिज किया जा सकता है. बहुत सी बीमा कंपनियां धूम्रपान करने के बाद भी लोगों को कम प्रीमियम में हेल्थ पॉलिसी दे देती हैं अगर वे स्वस्थ हैं. अलग बीमा कंपनियों में हालांकि स्मोकर के लिए अलग प्रावधान हो सकते हैं.

शेयर करें