मनोरंजन

नहीं रहे फिल्म शोले के अमर किरदार “कालिया”

हिंदी सिनेमा के मशहूर चरित्र अभिनेता वीजू खोटे का 30 सितम्बर को उनके मुंबई स्थित आवास पर निधन हो गया| वे 78 वर्ष के थे| वीजू खोटे के निधन की सूचना उनकी भांजी भावना बलसावर ने‌ दी| उन्होंने कहा कि “खराब स्वास्थ के चलते कुछ दिनों पहले उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, वे अस्पताल से बेहतर होकर घर आए थे, लेकिन सोमवार (30 सितंबर) को सुबह 6.55 मिनट पर उनका निधन किडनी फेल होने के कारण हो गया”|

करीब 300 हिन्दी और मराठी फिल्मों में काम करने वाले वीजू खोटे का जन्म 17 दिसंबर 1945 को मुंबई में हुआ था। वीजू खोटे ने वर्ष 1964  से हिंदी सिनेमा में अपने करियर की शुरूआत की थी। उनकी पहली फिल्म “या मलक” थी जो 1964 में आई थी। उनको पहचान 1975 में रिलीज हुई सुपरहिट फिल्म ‘शोले’ में ‘कालिया’ का यादगार किरदार करके मिली। अपने अधिकतर फिल्मों में हास्य किरदार निभाने वाले वीजू खोटे ने छोटे परदे पर भी काफी काम किया है| उनकी कुछ प्रसिद्ध फ़िल्में हैं….सच्चा झूठा, रोटी, शोले, परवरिश, दूल्हन वही जो पिया मन भाए, शान, याराना, लावारिश, नमक हलाल, शराबी आदि|  

 

 

 

 

  

शेयर करें