ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

Karnataka मैं Corona Warriors कि हैरान करने वाली Video बनी चर्चा का विषय |

Shocking Video of Corona Warriors from Karnataka
Shocking Video of Corona Warriors from Karnataka

देश में जहा एक और अधिकांश Corona Warriors कोरोना कि जंग लड़ने में निरंतर प्रयासरत है वही दूसरी और भारत के कर्नाटका राज्य से Corona Warriors कि हैरान करने वाली विडियो आज चर्चा का विषय बना हुआ है. इस Video में बताया जा रहा है कि ये विडियो Karnataka के बेल्लारी का है जहा करना पीडितो के शवो को कूड़े कि तरह एक मानवनिर्मित गड्ढे में फेका जा रहा है,बताया जा रहा है कि करीब 8 शवों को दो गड्ढे में डाला गया है. बेल्लारी के डिप्टी कमिश्नर एस एस नकुल ने कहा कि शवों के अंतिम क्रिया के मामले में प्रोटोकॉल का तो पालन किया गया है लेकिन “मानवीय” पहलू को नजरअंदाज किया गया है. बेल्लारी प्रशासन ने मामले के जांच के आदेश दिए हैं.

एस एस नकुल ने कहा, “हम इस मामले में जांच कर रहे हैं. यदि आप Video देखें तो शवों को उचित तरीके से पैक किया गया है. हमें इस मामले में मानवीय पहलू पर गौर करने की जरूरत है. इसी वजह से यह जांच की जा रही है. शवों के उचित तरह से निस्तारण को लेकर हमें लोगों में जागरूकता पैदा करने की जरूरत है. “उन्होंने कहा, “मानवीय आधार पर यह सही नहीं है. सभी लोगों का अलग-अलग अंतिम संस्कार किया जाना चाहिए था. हम जांच करेंगे और उचित कार्रवाई करेंगे.”

कांग्रेस और जेडीएस ने कर्नाटक की बीजेपी सरकार पर राजनीतिक हमला करते हुए,जेडीएस ने अपने ट्वीट में लिखा, ”सावधान हो जाइये, अगर खुदा ना खास्ता आपका या आपके परिवार का कोई सदस्य कोविड-19 से मर जाता है तो Karnataka की बीजेपी सरकार इस तरह शव को अन्य शवों के साथ एक गड्ढे में फेंक देती है.” जेडीएस ने पूछा कि क्या यही वैल मैनेजमेंट है, जिसकी हर दिन मीडिया में चर्चा की जाती है. कांग्रेस नेता डी के शिवकुमार ने भी येदियुरप्पा सरकार को घेरा और ट्वीट में लिखा, ”बेल्लारी में कोरोना मरीजों के शवों को ऐसी अमानवीयता से गड्ढे में फेंका जाना विचलित करने वाला है. इससे पता चलता है कि सरकार Corona संकट को किस तरह संभाल रही है. मैं बीजेपी सरकार से अपील करता हूं कि वो इसपर संज्ञान ले.” मामले को तूल  पकड़ता देख Karnataka के स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलु ने कहा है कि जो स्वास्थ्यकर्मी इस घटना में शामिल थे, उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्यकर्मियों को ऐसा करते वक्त प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए. वहीं दूसरी और  मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने भी घटना पर हैरानी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि Corona पीड़ित लोगों के शवों के साथ स्वास्थ्यकर्मियों का ऐसा बर्ताव अमानवीय और दर्दनाक है. मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्यकर्मियों से अपील करते हुए कहा कि मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं है, लिहाजा शवों का अंतिम संस्कार सम्मान के साथ करें

ये सरकारों को सोचने कि जरूरत है की वो विडियो आने की प्रतीक्षा ना करे,तथा स्वास्थ्य सेवाओ और Corona से पीड़ित शवो का सही निपटान करे, जिससे लोगो का सरकारी स्वास्थ्य सेवाओ पर विश्वास बढ़े और प्रधानमंत्री का नारा जान और जहान भी तभी सार्थक हो पायेगा जब लोग घरो से बाहर निकल कर अपने रोजगार को फिर सुचारू रूप से चलाएंगे जिससे कि आर्थिक गतिविधियों का चक्का अपनी रफ़्तार पकड़ सके और ये तभी संभव है जब लोगो को ये विश्वास होगा कि सरकार है किसी भी विषम परिस्थति में उनके परिवार के लोगो का ध्यान रखने के लिए.

देश में Corona के बढ़ते मीटर के बीच कई राज्यों ने बढ़ाया Lockdown, 1 July से देश में क्या होगी गृह मंत्रालय कि रणनीति………

राकेश मोहन सिंह – मीडिया दरबार

देश और दुनिया कि ताज़ातरीन खबरों के लिए जुड़े रहिये – मीडिया दरबार.

शेयर करें
Live Updates COVID-19 CASES