मनोरंजन

Naseeruddin Shah Birthday: रत्ना पाठक से कैसे हुआ प्यार |

Naseeruddin Shah Birthday: रत्ना पाठक से कैसे हुआ प्यार |

दोस्तों आज जिनका जन्मदिन हैं वो एक एसी हस्ती हैं जिन्होंने अपनी सफलता का लोहा सारी दुनिया में मनवाया है और सबके दिलो पर राज़ किया है वो कोई और नही बल्कि नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) है | नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) हिन्दी फ़िल्मों के एक फेमस एक्टर हैं। शाह, जिन्हें हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में अदाकारी का एक पैमाना कहा जाए तो शायद ही किसी को एतराज हो। नसीर का नाम अगर पैरेलल सिनेमा के सबसे बेहतरीन एक्टर्स की लिस्ट में शामिल हुआ है तो बॉलीवुड की मेनस्ट्रीम  या कॉमर्शियल फिल्म्स में भी उन्होंने बड़ी कामयाबी हासिल की है।

Naseeruddin Shah

नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) का जन्म 20 जुलाई 1950 को उत्तर प्रदेश के बाराबंकी शहर में एक पश्तून मुस्लिम परिवार में हुआ था, जो मूल रूप से मेरठ से आया था। शाह ने अपनी स्कूली शिक्षा सेंट एंसलम्स अजमेर और सेंट जोसेफ कॉलेज, नैनीताल में की। उन्होंने 1971 में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की और दिल्ली में नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में गये।

उन्होंने राजेंद्र कुमार और सायरा बानो की फिल्म अमन में एक छोटे रोल के साथ अपनी शुरुआत की। शाह 1980 की फिल्म हम पांच के साथ बॉलीवुड सिनेमा में एक्टिव हुए । 1982 में, उन्होंने राखी के साथ इस्माइल श्रॉफ द्वारा निर्देशित फिल्म दिल आखिर दिल है में एक्टिंग की । उनकी सबसे महत्वपूर्ण फिल्मों में से एक, फिल्म मासूम, 1983 में रिलीज़ हुई थी और इसे सेंट जोसेफ कॉलेज, नैनीताल में शूट किया गया था। मेनस्ट्रीम फिल्मों में उनकी अगली बड़ी सफलता 1986 की मल्टी-स्टार फिल्म कर्मा थी जिसमें उन्होंने वेटेरन दिलीप कुमार के साथ अभिनय किया। उन्होंने इजाज़त , जलवा और हीरो हीरालाल जैसी फिल्मों में काम किया । 1988 में, उन्होंने मर्चेंट आइवरी इंग्लिश फिल्म द परफेक्ट मर्डर में एच. आर. एफ. कीटिंग के फिक्शनल डीटेकतिव इंस्पेक्टर घोटे के रूप में अपनी पत्नी रत्ना पाठक के साथ अभिनय किया।

शाह ने 2001 में मॉनसून वेडिंग और 2003 में हॉलीवुड कॉमिक बुक अनुकूलन द लीग ऑफ एक्स्ट्राऑर्डिनरी जेंटलमेन जैसी इंटरनेशनल प्रोजेक्ट्स में भी अभिनय किया है। उन्होंने लैवेंडर कुमार, इस्मत चुगताई और सादत हसन मंटो द्वारा लिखित प्ले का निर्देशन किया है। फिल्मों में उनके निर्देशन की शुरुआत, यूं होता तो क्या होता, से हुई थी|

बात करे उनकी मैरिड लाइफ की तो जब उनकी उम्र सिर्फ 19 से 20 साल के बीच थी, तब शाह ने 36 वर्षीय मनारा सीकरी से शादी की, जिन्हें परवीन मुराद के नाम से भी जाना जाता है। 1970 के दशक में, शाह की मुलाकात रत्ना पाठक से हुई और उन्हें रत्ना से प्यार हो गया। वे कई सालों तक लिव-इन रिलेशनशिप में रहे, जबकि शाह ने मनारा को तलाक देने के लिए जरूरी मेहर भी इखता क्र रखी थी । 1982 में शाह और पाठक की शादी हुई। अपनी दूसरी शादी से, शाह के दो बेटे इमाद और विवान हैं, और उनकी पहली शादी से एक बेटी, एक्ट्रेस हीबा है।

नसीरुद्दीन अक्सर दिलीप कुमार, राजेश खन्ना, अनुपम खेर जैसे साथी कलाकारों, शाहरुख खान, सलमान खान, क्रिकेटर विराट कोहली और राजनेता और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जैसे वरिष्ठ अभिनेताओं की आलोचना के साथ विवादों में शामिल रहे हैं। शाह ने एक बार कहा था कि शाहरुख और सलमान की फिल्में देखने वाले लोगों को उनकी फिल्में नहीं देखनी चाहिए। जुलाई 2016 में, शाह ने 1970 के दशक के दौरान अपने खराब अभिनय के साथ फिल्मों में मेदिओक्र के लिए दिवंगत राजेश खन्ना को दोषी ठहराया। उन्होंने यह भी कहा कि अनुभवी अभिनेता एक सतर्क व्यक्ति नहीं थे जिनसे वह मिले थे। हालांकि, बाद में राजेश खन्ना की बेटी ट्विंकल सहित बॉलीवुड बिरादरी में कई लोगों की आलोचना के बाद, नसीरुद्दीन ने अपने विचारों के लिए माफी मांगी।18 दिसंबर, 2018 को, उन्होंने विराट कोहली को दुनिया का सबसे खराब व्यवहार करने वाला क्रिकेटर कहकर विवाद खड़ा कर दिया।

दिसंबर 2018 में कम्युनल वोइलांस की एक घटना पर प्रतिक्रिया देने के बाद शाह को राईट विंग मीडिया द्वारा निशाना बनाया गया था। उन्होंने कहा कि वह वर्तमान भारत में असुरक्षित महसूस करते हैं और अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं अगर वे भीड़ की हिंसा की स्थिति में फंस गए। जनवरी 2020 में, शाह को उनके सह-अभिनेता सहयोगी अनुपम खेर की भारत सरकार के CAA का समर्थन करने वाले उनके विचारों की आलोचना करने के बाद मीडिया द्वारा निशाना बनाया गया, उन्हें एक जोकर और साईकोफंत कहा गया।

हाल ही में निमोनिया के इलाज़ के लिए हुए थे भर्ती

हाल ही में नसीरुद्दीन शाह, जिन्हें निमोनिया के इलाज के लिए हिंदुजा अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन वो निमोनिया से  जल्द ही ठीक हो कर घर वापस आ गये, और उन्होंने निमोनिया जैसे बीमारी को मात दी, अब वो पूर्ण रूप से सुरक्षित है |

उन्होंने अपने करियर में तीन नेशनल फिल्म्फिर अवार्ड , तीन फिल्मफेयर अवार्ड और एक वेनिस फिल्म फेस्टिवल अवार्ड सहित कई पुरस्कार जीते हैं। भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए भारत सरकार ने उन्हें पद्म श्री और पद्म भूषण पुरस्कारों से सम्मानित किया है।

 

देखे बर्थडे स्पेशल विडियो : 

यह भी पढ़े :  तापसी पन्नू ने किया अपना प्रोडक्शन हाउस “आउटसाईडरस फिल्म्स” लौंच|

 

रिपोर्टर :- छाया चौहान

मीडिया दरबार

शेयर करें
COVID-19 CASES