Uncategorized

petrol-diesel के साथ अब CNG PNG के दामों में हुई बढ़ोतरी..

petrol-diesel के साथ अब CNG – PNG के दामों में हुई बढ़ोतरी,

उपभोक्ताओं की जेबों पर पड़ा असर|

petrol-diesel
Source Social Media

पहले से ही महंगे petrol-diesel के मार झेल रहे उपभोक्ताओं की जेब पर बोझ बढ़ गया है| इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने 2 मार्च से दिल्ली-एनसीआर समेत युपी और हरियाणा के कुछ शहरों में CNG के दामों में प्रति किलो 70 पैसे की बढ़ोतरी कर दी गयी है|बढ़ी कीमते मंगलवार सुबह छह बजे से लागू हो गयी है| हालाँकि डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए ऑफ़ पीक ऑवर्स में 59 पैसे प्रति किलों की छुट दी गयी है|

इसके तहत दोपहर 11 बजे से शाम 4 बजे तक और रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक कैश लेश पेमेंट करने पर प्रतिकिलों 50 पैसे की छुट मिलेगी| आपको बता दे की IGL स्मार्ट कार्ड के मध्यम से केवल IGL CNG स्टेशनों पर सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक और 12 बजे से सुबह 6 बजे के बीच प्रति किलोग्राम 0.50 की विशेष कैश बैक योजना पेश की जाएगी| घरेलू PNG ग्राहकों के लिए 15 रूपए का प्रोत्साहन तब मिलेगा जब वे IGL कनेक्ट मोबाइल APP के माध्यम से स्व-बिलिंग विकल्प का उपयोग भी करेंगे|

petrol-diesel

petrol-diesel

petrol-diesel

सोमवार को कच्चा तेल बढ़त के साथ 65.49 डॉलर प्रति बैरल हो गया| यह एक साल में इसका सर्वोच्च स्तर रहा है| IGL की ओर से जारी प्रेस कांफ्रेंस में कहा गया है की कोरोना काल में बढ़ते आर्थिक बोझ की वजह से कीमतें बढाने का फैसला किया गया है. हालाँकि साथ में यह भी दावा किया गया है की कीमतों के बावजूद दिल्ली में CNG के कीमतें देश में सबसे कम है आइये एक बार नजर डाल लेते है की शहरों में बढ़ी कीमतें कितनी है पहले कीमते क्या थी|

दिल्ली में पहले CNG की कीमत 42.7 थी, जो की अभी 43.40 हो गयी है| नॉएडा में पहले 48.38 थी,जो अब 49.08 हो गयी है| गाजियाबाद में पहले 48.38 थी,जो अब 49.08 हो गयी है| कानपुर में पहले 59.8 थी,जो अब 60.50 हो गयी है|फतेहपुर में पहले 59.8 थी जो बदलकर 60.50 हो गयी है| हमीरपुर में पहले 59.8 थी जो अब 60.50 हो गयी है | मुज्जफरनगर में पहले 56.55 थी जो अब 57.25 हो गयी है| शामली में पहले 56.55 थी जो अब 57.25 हो गयी है | करनाल में पहले 50.68 थी जो अब 51.38 हो गयी है|

समय के साथ महंगाई बढती ही रहती है लेकिन महगाई का स्तर क्या रहा है एक बार हम उस पर भी नजर डाल लेते है | CNG, PNG के साथ पेट्रोल डीजल के दामों ने भी उपभोक्ताओं की जेब टाइट की हुई है, अब हम बात करते है 6 साल पहले पेट्रोल और डीजल के दाम और अभी तक के दामों में किस हद्द तक अंतर आया है | साल 2014 में petrol-diesel पर टैक्स 9.48 रूपए प्रति लीटर पर 3.56 रूपए था| नवम्बर 2014 से जनवरी 2016 तक केंद्र सरकार ने इसमें नौ बार इजाफा किया| एक महीने में पट्रोल पर ड्यूटी 11.77 और डीजल पर 13.47 रूपए प्रति लीटर बढ़ चुकी थी |

 

देश के पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान पहले ही कह चुके हैं की देश में पेट्रोलियम उत्पादों को GST में लाने की जरूरत हैं, और हमारे देश के मुख्य आर्थिक सलहाकार भी कह चुके हैं की पेट्रोलियम उत्पादों को GST में लाने से दामो में कमी आएगी, लेकिन सच यह भी हैं की केंद्र और राज्य सरकार बड़ी ही मोटी कमाई करते हैं पेट्रोलियम उत्पादों पर लगने वाले टैक्स से तो देखना यह भी रोचक हैं की क्या केंद्र और राज्य सरकार जनता प्रेम में पेट्रोलियम से होने वाली मोटी कमाई का मोह त्याग पायेंगे और जनता हित में पेट्रोलियम उत्पादों को GST में लाने के लिए वकालत करंगे ?

रिपोर्ट – नेहा परिहार

मीडिया दरबार

शेयर करें
COVID-19 CASES